kagaaz

साहित्य, कला, और डिज़ाइन

‘अर्बन अक्रिलिक’ और ‘ब्लैक एंड वाइट’, त्रिवेणी पर

आर्ट हेरिटेज गैलेरी, त्रिवेणी कला संगम, 205 तानसेन मार्ग (मंडी हाउस), नई दिल्ली

मार्च 16 से अप्रैल 14 तक

पिछले दो हफ़्तों से त्रिवेणी में स्थित आर्ट हेरिटेज गैलेरी में दो प्रभावशाली प्रदर्शन चल रहे हैं — पहला, ‘अर्बन अक्रिलिक’, चित्रकार राज मोरे के अक्रिलिक पेन्टींग्स का है, और दूसरा, ‘ब्लैक एंड वाइट’, सात चित्रकारों के काले व सफ़ेद रंग के पेन्टींग्स का है।

राज मोरे की तस्वीरों में हिन्दुस्तानी महानगरों के रास्ते, बिल्डींग, हलचल, और उनके निवासियों की अकांक्षाएँ, डर, प्यार, सपने, और व्याकुलता का प्रतिबिंब मामुली वस्तुों में झलकता है।  जिस तरह आटोरिक्शा के शीशे में रास्ते पर चीज़ों का टेढ़ा हुआ बिम्ब दिखता है, उसी तरह मोरे की तस्वीरों में महानगर के जीवन का बिम्ब दिखता है — टेढ़ा-सा, तिरछा-सा, रंगीन, कभी-कभी विकृत-सा।

Image

राज मोरे — सिटी ऑफ़ जोई, वोर्ली ब्रिज, 2011

Image

राज मोरे — मैं ऐश्वर्य राय बनना चाहती हूँ, 2011

‘ब्लैक एंड वाइट’ में इस बात का प्रदर्शन किया गया है कि दो बुनियादी रंग– काला और सफ़ेद — को लेकर शैली, टेकनीक और एफेक्ट (असर) में कितना विविधता हो सकती है।  गैलेरी के प्रबन्धकों के मन में ऐसे प्रदर्शन करने का विचार तब हुआ जब चित्रकार नन्द कत्याल (जो आम तौर पर काला और सफ़ेद रंगों के पेन्टींग्स नहीं बनाते) ने गैलेरी को इन रंगों में अपने कुछ पेन्टींग्स दिये; उनके इन कृतियों को छः और कलाकारों की कृतियों से मिलाकर गैलरी ने उनको प्रस्तुत किया है।

Image

नन्द कत्याल — शीर्शकहीन 6, 2011

कत्याल के अलावा वसीम कपूर, शबनम शाह और संजु जैन के पेन्टींग्स और आर.बी. भास्करण व जीन भौनगरी के रेखाचित्र प्रदर्शित किये गये हैं।  शबनम शाह के पेन्टींग्स ख़ास तरह से उल्लेखनीय हैं कि वे सीधे कैन्वस पर काजल और पानी मिलाकर पेन्ट करती हैं — इस टेकनीक को लेकर वे आश्चर्यजनक ढंग से बहुत सारे टोन्स बना सकती हैं।

Image

शबनम शाह — द ब्लैक ए-70,

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

Information

This entry was posted on अप्रैल 5, 2012 by and tagged , , , , , .

नेविगेशन

%d bloggers like this: